Leela

13 Views

वेनि  पोश लागय माता धूप दीप जालय
आरती माता गुल ज़ीई गंडिथ करय बारंबार

कंध हैथी भक्त चैन आई चेनिस् दारस्
चाने लोलि चेनी कली ति चेनिस नादस

भूजुमुत छु मजी छय भक्तन रोजान साहितस्
दादेंन दोखेन छय वातनावान शहजार

भ ओसुस  नादान   भ   रूदुस  आनजान
बेखबर रुदुस चेनिशा  च नजदीक रूजिथ

च माता याम दिचिथम  ईथय चेनविन
आबास चौनुय बसान ओसुम सुबह शाम

चयानि आमि   येसि   पसि  हुँद  छुम मै आभार
पनि  अमी वेव्हारुक छुस भ शरम सार

मै   माता   दितम  तार  भव   सागरि  अपोर
देवि   कशट  हरण  ति लेगी   दुखव   निशा   तार

Topics


Jammu & Kashmir - History, Culture & Traditions | J&K Current Trends | Social Network | Health | Lifestyle | Human Resources | Analytics | Cosmetics | Cosmetology | Forms | Jobs



Quote of the Day


"Time Flies Over, but Leaves its Shadows Behind"